रुड़कीं -हरिद्वार हाईवे पर त्यागी समाज ने लगाया शिविर,शिवभक्तों की सेवा में लगा पूरा परिवार

Spread the love

(दिलशाद खान)
(न्यूज़ रुड़कीं-हरिद्वार) कावड़ियों की सेवा के लिए 2 साल बाद भोले के भक्तों ने सावन की कावड़ यात्रा पर शिविर लगाया है।

कावड़ियों के भोजन विश्राम तथा उनको विभिन्न प्रकार की दवाइयां उपलब्ध कराने का काम किया जा रहा है। रूड़कीं से लेकर हरिद्वार तक कावड़ियों का सैलाब है ।पंचक के बाद बड़ी संख्या में शिवभक्त हरिद्वार से गंगा जल लेकर लौटने लगे है।हरिद्वार से जल लेकर आने वाले कावड़िये जहां से भी निकलते है वहां पूरा शहर बम बम भोले नाथ के जयकारों से गूँज उठता है। कांवड़ियों के लिए खाने पीने व ठहरने के लिए जगह जगह शिविर लगे है कोई अप्रिय घटना न घटे इसके लिए पुलिस भी अपना पूरा इंतज़ाम रखता है।

इस दौरान जहां पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं तो वहीं गांव के लोग और समाज सेवी संगठन भी शिवभक्तों की सेवा के लिए आगे आए हैं। सिविल लाइंस निवासी त्यागी समाज भी शिवभक्तों की सेवा करने के लिये आगे आये है जिनके द्वारा हरिद्वार मार्ग पर शिवभक्तों के लिए  पानी,कोल्ड्रिंक्स और फल वितरित करने के लिए शिविर लगाया गया है।इस दौरान त्यागी समाज का पूरा परिवार एक साथ दिखाई दिया जिनमे परिवार की महिलाएं भी शामिल थीं।

इस दौरान हज़ारों की संख्या में शिवभक्तों को तरल पदार्थ की बोतलें दी गईं। रूड़कीं सिविल लाइन निवासी एफएसओ अनिल कुमार त्यागी का मानना है कि शिवभक्तों की सेवा से हर तरह से शांति मिलती है मानसिक तनाव नहीं रहता और दिल का बोझ हल्का रहता है। भगवान शिव की महिमा निराली है भगवान शिव से जो भी मांगा जाता है भगवान उसे पूरा करते हैं जो लोग कावड़ लेकर नहीं जा सकते उन्हें शिव भक्तों की सेवा के लिए आगे आना चाहिए।

उन्होंने कहा की भीषण गर्मी में तरल पदार्थ पानी और फलों की सुविधा शिव भक्तों के लिए की गई है।उन्होंने कहा कि किसी भी शिव भक्त को परेशान होने की आवश्यकता नहीं है। भगवान शिव सभी की मनोकामना पूरी करें ऐसी उनकी भगवान से प्रार्थना है। इस मौके पर कावड़ियों की सेवा करने वाले प्रमुख लोगों में हिमांशु त्यागी,नूपुर त्यागी,वैभव त्यागी,मधु त्यागी,नरेश त्यागी,शंशाक त्यागी,
तुषार त्यागी,काजल त्यागी,यश अरोड़ा, आकाशअग्रवाल,अंशिका शर्मा,और रिया शर्मा, आदि लोग प्रमुखता से कावड़ शिविर में अपना सहयोग दे रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed