नई दिल्ली के 300 युवा योग से स्वास्थ्य जागृति का जन कल्याण आंदोलन चलाएंगे; अंतरराष्ट्रीय योग गुरु डॉ. बी. इस्लाम कैरानवी

(दिलशाद खान)

(न्यूज़ दिल्ली) योग मन, शरीर और आत्मा को स्वस्थ रखने की एक प्राचीन वैज्ञानिक पद्धति और अभ्यास है। जिसकी उत्पत्ति भारत में हुई है। इसमें मेडिटेशन, ब्रीथिंग एक्सरसाइज, रिलैक्सेशन और स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज अपने लाभों के कारण बहुत मशहूर हुए।

पांच दिवसीय कार्यशाला’ का ऑनलाइन आयोजन नई दिल्ली स्थित इंस्टिट्यूट ऑफ़ वोकेशनल स्टडीज शेख सराय में भरपूर उमंग और उत्साह के साथ किया गया। जिसका माध्यम ऑनलाइन ज़ूम मीटिंग एप रहा। कार्यशाला के प्रथम दिन उद्घाटन सत्र का आरंभ प्रधानाचर्या डॉ मंदिरा गुप्ता के स्वागत भाषण से हुआ।
भारत सरकार से सम्मानित, पिछले 45 साल से कार्यरत अंतरराष्ट्रीय प्रसिद्ध योग विशेषज्ञ गुरु और इंस्टिट्यूट ऑफ़ डर्बिक योग एंड क्लिनिक ऑफ़ आयुष पैरामेडिक्स नई दिल्ली के डायरेक्टर डॉ. बी. इस्लाम कैरानवी को छात्र-शिक्षकों के स्वास्थ्य और प्रशिक्षण के लिए 5 दिवसीय कार्यशाला आयोजित करने के लिए आमंत्रित किया गया। श्रीमती मंदिरा जी ने मुख्य अतिथि डॉ. बी.इस्लाम कैरनवी और सभी प्रतिभागियों का स्वागत, कार्यशाला की आयोजना-सचिव श्रीमती नाहिद रईस के साथ किया।
अतिथेय तथा समन्वयक करने में श्री सैयद आमिर शाह एवं श्री फैसल कामयाब रहे। डॉ. बी.इस्लाम कैरानवी ने शरीर तथा मन के विश्राम के लिए योग का महत्व समझाया, लम्बाई बढ़ाने में योग की भूमिका व्यवहारिक रूप से समझाते हुए कराई, समाज कल्याण के लिए प्रार्थना सभा में माइक्रो- योगा समाविष्ट करना सिखाया तथा उन्होंने स्वयं द्वारा रचित उच्च-प्राथमिक और वरिष्ठ माध्यमिक के लिए योग कौशल पर एन. सी.ई. आर. टी प्रस्तुत अनमोल पुस्तक हमसे मुफ़्त साँझा की।
कार्यशाला में रोमांचक एवं उत्साह वर्धक प्रोग्राम के तहत लाइव योगा परफॉर्मेंस का आयोजन किया गया, जिसमें सभी प्रतिभागियों ने सहर्ष भाग लिया। परिणामस्वरूप, डी.ई.एल.एड की ‘नयनिका कुमारी’ ने प्रथम स्थान और बीएड की ‘दीपांशी गुप्ता’ ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। कार्यशाला का समापन श्री सैयद आमिर शाह के धन्यवाद भाषण के साथ सफलतापूर्वक हुआ। कुल मिलाकर, कार्यशाला की खूब सराहना हुई और सभी प्रतिभागियो के लिए यह सीखने का अविस्मर्णीय समृद्ध अनुभव रहा। हर्ष की बात यह है की कार्यशाला के परिणा से प्रेरित हो कर अब नई दिल्ली के 300 युवा योग से स्वास्थ्य जागृति का जन कल्याण आंदोलन चलाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

%d bloggers like this: