समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव समीर आलम ने भगवानपुर थाने में सिपाही और दरोगा के लाईन हाज़िर होने पर बीजेपी पर उठाये सवाल

(रिपोर्ट- दिलशाद खान)

(न्यूज़ रुड़कीं) समीर आलम राष्ट्रीय सचिव समाजवादी पार्टी ने भगवानपुर थाने प्रकरण को लेकर कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार उत्तराखंड में होने की वजह से एवं मुख्यमंत्री के संरक्षण में भारतीय जनता पार्टी के नेता एवं कार्यकर्ता खुलेआम गुंडई कर रहे हैं जिसका जीता जागता उदाहरण कल रात भगवानपुर थाने में देखने को मिला जब एक वारंटी को पुलिस पकड़ कर लाई तो कुछ भारतीय जनता पार्टी के नेता अपने कार्यकर्ताओं सहित उसको छुड़ाने भगवानपुर थाने में पहुंच गए जबकि माननीय कोर्ट द्वारा उक्त अपराधी के एनबीडब्ल्यू वारंट जारी किए गए थे जब पुलिस अपना काम करते हुए उसको पकड़ कर थाने ले गई तो यह भाजपा नेता अपने कार्यकर्ताओं सहित उसको छुड़ाने थाने पहुंच गए और अनावश्यक रूप से दबाव बनाने लगे यहां तक जबरदस्ती अपराधी को अपने साथ लेकर जाने लगे थाने से जब पुलिस ने अपनी ड्यूटी निभाते हुए इनको रोकने का प्रयास किया तो उल्टा इन्होंने ही सत्ता के नशे में पुलिस की ऊपरी झूठे आरोप लगाकर वहां धरना शुरू कर दिया और इन नेताओं को मुख्यमंत्री व मंत्रियों का भी समर्थन प्राप्त है।जिस कारण रात को ही अपने सही ड्यूटी निभा रहे एक दरोगा और दो सिपाहियों को लाइन हाजिर कर दिया गया इससे पूर्व में भी भारतीय जनता पार्टी के लोग सरकार के नशे में इस तरह थाना चौकी में बवाल करते रहे मैं कहना चाहता हूं यह समय बदलाव का है कुछ दिन और शेष बचे हैं इस सरकार की विदाई तय है 2022 में बदलाव होगा अगर इस बार उत्तराखंड की जनता ने समाजवादी पार्टी को मौका दिया तो उत्तराखंड के अंदर कानून का राज स्थापित किया जाएगा और इस तरह के गुंडों को जेल भेजने का काम किया जाएगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed

%d bloggers like this: